इलाहाबाद हाईकोर्ट का आदेश, कुम्भ में स्नान करती महिलाओं के फोटो टीवी या अखबार में दिखाने पर होगी कार्रवाई

पुलवामा हमले में यूपी के जवान शहीद, राज्य सरकार एक व्यक्ति को नौकरी और 25-25 लाख रुपए देगी

अमर सिंह ने कहा- खनन घोटालों में कोई एक्शन ना हो इसलिए मुलायम सिंह ने की पीएम मोदी की तारीफ

मुलायम सिंह के बयान से दुखी हुए आजम खान, कहा- बहुत दुःख हुआ यह सुनकर, बीजेपी ने पोस्टर लगाकर कहा थैंक्यू

सीएम योगी आदित्यनाथ ने बताया किस वजह से अखिलेश यादव को एयरपोर्ट पर रोका गया

खत्म हुआ प्रियंका का रोड शो, राहुल और सिंधिया के साथ कांग्रेस दफ्तर पहुंची

पीएम मोदी ने वृंदावन में अक्षय पात्र के बच्चों को परोसा भोजन, कहा- विकसित देश के लिए शक्तिशाली और पोषित बचपन का होना जरूरी

2019-02-09_AllahabadHC.jpg

अखबार और टीवी पर स्नान करती महिलाओं की फोटो दिखाए जाने पर इलाहाबाद हाईकोर्ट ने मेला अधिकारियों को कड़ी फटकार लगाई है. अदालत ने निर्देश दिया है कि ऐसा करने वालों पर कार्रवाई की जाएगी. इस मामले में अगली सुनवाई पांच अप्रैल को होगी.

वकील असीम कुमार की याचिका पर जस्टिस पीकेएस बघेल और जस्टिस पंकज भाटिया की खण्डपीठ ने सुनवाई की. कोर्ट ने मेला अधिकारी से पूछा- जब स्नान घाट से 100 मीटर के दायरे में फोटोग्राफी प्रतिबंधित है तो यह कैसे हो रहा है? इस प्रतिबंध का कड़ाई से पालन कराएं.

प्रशासन 1000 से ज्यादा सीसीटीवी कैमरों की मदद से पूरे मेला क्षेत्र की निगरानी कर रहा है. पूरे इलाके पर नजर रखने के लिए 40 निगरानी टावर का निर्माण किया गया है. मेले में राज्य पुलिस बल, पीएसी और केन्द्रीय रिजर्व पुलिस बल के करीब 22,000 जवानों की तैनाती भी की गई है. आपातस्थिति से निपटने के लिए पूरे मेला क्षेत्र में 40 पुलिस थाने, 3 महिला पुलिस थाने और 60 पुलिस चौकियां स्थापित की गई हैं. इसके अलावा 4 पुलिस लाइन भी बनाई गई हैं.



loading...