अगस्‍ता वेस्‍टलैंड घोटाला: विशेष अदालत ने बिचौलिए क्रिश्‍चियन को 5 दिनों की CBI कस्टडी में भेजा

2018-12-05_ChopperScam.jpg

यूपीए शासनकाल के दौरान 3600 करोड़ रुपए के 12 अगस्‍ता वेस्‍टलैंड हेलीकॉप्‍टर की खरीद के घोटाले में बिचौलिए की भूमिका निभाने वाले ब्रिटिश नागरिक क्रिश्चियन जेम्‍स मिशेल को मंगलवार देर रात दुबई से भारत प्रत्‍यर्पित कर दिया गया. मिशेल को आज सीबीआई की स्पेशल कोर्ट में पेश किया गया. इसके बाद कोर्ट ने मिशेल को 5 दिनों की सीबीआई कस्टडी में भेजने के आदेश दे दिए. 

इससे पहले मिशेल ने स्पेशल कोर्ट में बेल के लिए याचिका भी दायर की थी. कोर्ट ने इस याचिका को अगली सुनवाई तक के लिए विचाराधीन रखा है. कोर्ट ने मिशेल के वकील को एक घंटा सुबह और एक घंटा शाम को परामर्श के लिए समय भी दिया. सुनवाई के दौरान सीबीआई ने मिशेल की कस्टडी देने की मांग करते हुए कहा कि मामले की जांच की जा रही है और दुबई के दो खातों में हुए पैसों के लेन-देन की जानकारी जुटाने के लिए हमें मिशेल की कस्टडी की जरुरत है.

सीबीआई ने मिशेल से जो सवाल पूछे, वो ये हैं...

1. 'एपी' और 'एफएएम' कौन हैं और इन्हें रिश्वत के तौर पर कितनी रकम दी गई? 
2. क्या ठेके की प्रक्रिया पर आपकी नजर थी? 
3. वायुसेना के वरिष्ठ अधिकारियों से आपके क्या संबंध थे? 
4. क्या आपने वायुसेना के अधिकारियों को प्रभावित करने के लिए अगस्ता के विनिर्देशों में बदलाव किए? 
5. क्या 5 फर्जी अकाउंट के जरिए आपको रिश्वत दी गई?

आपको बता दें कि मिशेल को दिल्ली के पटियाला हाउस कोर्ट में पेश किया गया था, मिशेल को विशेष न्यायाधीश अरविंद कुमार के सामने पेश किया गया. उधर भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने मिशेल को लेकर कांग्रेस पर हमला बोला है. जयपुर में पत्रकारों से बातचीत में भाजपा अध्यक्ष अमित शाह कहा कि विपक्ष मिशेल को बचाना चाहता है. 

सीबीआई प्रवक्ता अभिषेक दयाल ने कहा, मिशेल को वापस लाने के लिए संयुक्त निदेशक साई मनोहर के नेतृत्व में सीबीआई की टीम दुबई भेजी गई थी. ऑपरेशन ‘यूनिकॉर्न’ के नाम से हुई इस कवायद पर सीबीआई के अंतरिम निदेशक एम. नागेश्वर राव राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल के निर्देशन में हर पल की गतिविधि पर नजर रख रहे थे.



loading...