गोवा में 4800 वोटों के अंतर से जीते मनोहर पर्रिकर अब देंगे राज्यसभा की सीट से इस्तीफ़ा

2017-08-28_manohar-parrikar-goa-byelection.jpg

गोवा के सीएम मनोहर पर्रिकर ने पणजी सीट से 4,803 वोटों के अंतर से जीत दर्ज की है. पणजी उपचुनाव जीतने के बाद मनोहर पर्रिकर ने कहा कि मैं अगले हफ्ते राज्यसभा से इस्तीफा दे दूंगा. पर्रिकर ने अपने निकटतम प्रतिद्वंद्वी एवं कांग्रेस उम्मीदवार गिरीश चोडानकर को हराया. वहीं गोवा की वालपोई सीट से भी बीजेपी के विश्वजीत राणे ने 10,066 वोटों के अंतर से जीते दर्ज की है.

पर्रिकर ने कहा कि वह उन्हें मिली जीत के अंतर से खुश हैं. उन्होंने कहा कि उनके प्रदर्शन और लोगों के साथ उनके जुड़ाव के कारण उन्हें यह जीत मिली. उन्होंने कहा, मैं पणजी के लोगों का शुक्रगुजार हूं जिन्होंने मुझे चुना. यह वर्ष 2012 में हुए विधानसभा चुनाव का दोहराव है. चोडानकर ने कहा कि वह पणजी के लोगों के ‘‘प्यार एवं स्नेह’’ के लिए उनके शुक्रगुजार हैं.

पर्रिकर ने मार्च में रक्षामंत्री के पद से इस्तीफा देकर मुख्यमंत्री पद का भार संभाला था. जब उन्होंने पदभार संभाला था, तब वह विधायक नहीं थे और इसलिए उन्हें पद पर बने रहने के लिए छह महीने के भीतर सदन में चुनकर आना जरूरी था. पर्रिकर इस अग्निपरीक्षा में पास हो गए.

पर्रिकर की पार्टी के सहयोगी सिद्धार्थ कुंकोलिएंकर ने उनके लिए यह सीट छोड़ दी थी, जो फरवरी में विधानसभा चुनावों में पणजी से चुने गए थे. राणे कांग्रेस की टिकट पर वालपोई से निर्वाचित हुए थे. बाद में उन्होंने पार्टी छोड़ने के साथ ही विधायक के पद से भी इस्तीफा दे दिया. इसके बाद वह बीजेपी में शामिल हो गए, जहां उन्हें मंत्री बना दिया गया था. पणजी और वालपोई में क्रमश: 70 प्रतिशत और 79.80 प्रतिशत मतदान हुआ था.

,


loading...