नितिन पटेल के बाद गुजरात भाजपा में फिर बगावत, एक और मंत्री ने बड़े मंत्रालय की मांग की

2018-01-03_fisheries-minister-Purshottam-Solanki.jpg

गुजरात में भाजपा सरकार जब से सत्ता में आई है तभी से उनके शीर्ष नेता पार्टी से नाराज चल रहे हैं। डिप्टी सीएम नितिन पटेल के नाराज होने के बाद अब कोली समाज से ताल्लुक रखने वाले और पांच बार के विधायक चुने गए पुरुषोत्तम सोलंकी ने भी पार्टी के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है। वह भी उन्हें दिए गए विभाग से खुश नहीं है। उन्होंने पार्टी एक से ज्यादा विभाग और बेहतर विभागों की मांग की है। 

सोलंकी ने कहा कि 'यह मेरे लिए नहीं बल्कि पूरे कोली समाज का मामला है। कोली समुदाय मुझे दिए गए विभाग से खुश नहीं। जो समुदाय कहेगा मैं वैसा ही करूंगा।' उनका कहना है कि जब नितिन पटेल को मनमाना मंत्रालय मिल सकता है तो मुझे क्यों नही मिल सकता। मत्स्य मंत्रालय से मेरा काम सिर्फ तटीय इलाकों तक ही सीमित रहेगा। उन्होंने कहा कि कोली समाज मेरे साथ हुए इस व्यवहार से खुश नहीं हैं और अगर ऐसा ही रहा तो समाज के लोग पार्टी से नाराज भी हो सकते हैं। आगे उन्होंने कहा कि जब मुख्यमंत्री विजय रुपाणी खुद एक साथ 12 मंत्रालय संभाल सकते हैं तो में एक से ज्यादा क्यों नहीं।

वहीं आज सुबह पुरुषोत्तम के भाई और पूर्व भाजपा नेता हीरा सोलंकी इस मांग को लेकर समर्थकों के साथ गांधीनगर में मुख्यमंत्री आवास पर भी इकट्ठा हुए। बता दें कि सरकार बनने के बाद पार्टी आलाकमान ने विजय रूपाणी को सीएम तो नितिन पटेल को डिप्टी सीएम घोषित किया।

नितिन को वित्त मंत्रालय का प्रभार सौंपा गया। कैबिनेट में अपनी पसंद का मंत्रालय नहीं मिलने के कारण नितिन पटेल कार्यभार संभालने में देरी कर रहे थे। पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह से बातचीत और सरकार में उनके हैसियत के मुताबिक नंबर दो का मंत्रालय दिए जाने के आश्वासन के बाद पटेल कार्यभार संभालने के लिए तैयार हुए थे।



loading...