आयकर विभाग ने आम आदमी पार्टी के विधायक नरेश बाल्यान को 2 करोड़ नकदी के साथ पकड़ा

केजरीवाल के मुस्लिम वोटर वाले बयान पर शीला दीक्षित का पलटवार, कहा- लोग जिसे चाहें उसे दे सकते हैं वोट

बोफोर्स घोटाला: सीबीआई ने आगे की जांच से जुडी याचिका वापस ली, 6 जुलाई को होगी अगली सुनवाई

दिल्ली-एनसीआर में बारिश के बाद सुहाना हुआ मौसम, कई इलाकों में पानी भरा, लोगों को गर्मी से मिली राहत

दिल्ली में बेटी के साथ हुई छेड़छाड़ का विरोध करने पर पिता और भाई पर चाकुओं से हमला, पिता की मौत

प्रेस कांफ्रेंस में रो पड़ीं आप उम्मीदवार आतिशी, कहा- गौतम गंभीर ने उनके खिलाफ बंटवाए अभद्र भाषा वाले पर्चे

लोकसभा चुनाव: उत्तर पूर्वी दिल्ली से कांग्रेस उम्मीदवार शीला दीक्षित के लिए प्रियंका वाड्रा का रोड शो जारी

2019-03-09_BalyanRaid.jpg

आयकर विभाग ने शुक्रवार शाम को छापेमारी के दौरान उत्तम नगर से ‘आप' विधायक नरेश बाल्यान से 2 करोड़ रुपये नकद बरामद किए हैं. देर रात तक आयकर विभाग के अधिकारी ‘आप' विधायक से पूछताछ कर रहे थे.

जानकारी के मुताबिक, आयकर विभाग की आठ सदस्यीय टीम शुक्रवार दोपहर द्वारका सेक्टर-12 स्थित एक प्रॉपर्टी डीलर के कार्यालय में छापा मारने गई थी. इस दौरान बाल्यान भी वहां पहुंच गए, जिनके पास बड़ी मात्रा में नकदी थी. विधायक से जब आयकर अफसरों ने नकदी का स्रोत पूछा तो वह कोई सटीक जबाव नहीं दे पाए. इसके बाद अफसरों ने प्रॉपर्टी डीलर के कार्यालय में ही बाल्यान से पूछताछ और अग्रिम जांच शुरू कर दी.

आप के विधायक नरेश बाल्यान का विवादों से पुराना नाता रहा है. 2015 में हुए विधानसभा चुनाव के दौरान जहां नरेश बाल्यान पर अवैध शराब का जखीरा इकट्ठा करने का आरोप लग चुका है. आचार संहिता के उल्लंघन, सरकारी अधिकारी को धमकी देने व हमला करने को लेकर भी उन पर तीन मामले दर्ज हुए थे. जबकि 2016 में मारपीट के एक मामले में नरेश बाल्यान को पुलिस ने गिरफ्तार किया था. हालांकि सभी मामलों में नरेश बाल्यान बरी हो चुके थे.

दिल्ली विधानसभा चुनाव के दौरान निर्वाचन आयोग के अधिकारियों ने उत्तम नगर क्षेत्र में छापा मारते हुए एक गोदाम से अवैध शराब की 5,964 बोतलें बरामद की थी. जो चुनाव प्रचार के दौरान बांटने के लिए गोदाम में एकत्रित की गई थी. आरोप लगाया था कि शराब की इन बोतलों का उपयोग उस दौरान उत्तम नगर से आप के प्रत्याशी नरेश बाल्यान चुनाव जीतने के लिए करने वाले थे. हालांकि बाद में यह आरोप साबित नहीं हो पाया था.



loading...