आंध्र प्रदेश में 74 साल की उम्र में महिला ने दिया जुड़वां बच्चियों को जन्म, दर्ज हो सकता है वर्ल्ड रिकॉर्ड

2019-09-05_Mother.jpg

आंध्र प्रदेश में 50 साल से भी अधिक समय से मां बनने का इंतजार कर रही एक महिला ने 74 वर्ष की आयु में जुड़वां बच्चों को जन्म दिया है. आंध्र प्रदेश के पूर्वी गोदावरी जिले में द्रक्षरमम की ई मंगयम्मा ने गुंटुर के एक निजी अस्पताल में आईवीएफ (इन-विट्रो फर्टिलाइजेशन) तकनीक से जुड़वां बच्चियों को जन्म दिया है.  

मंगयम्मा का विवाह साल 1962 में ई राजा राव के साथ हुआ था. हाल ही में जब उनके पड़ोस में रहने वाली एक महिला ने 55 साल की आयु में कृत्रिम गर्भाधान के रास्ते से बच्चे को जन्म दिया,  मंगयम्मा को भी लगा की वह यह रास्ता उनके लिए भी फलदायक हो सकता है और उन्होंने आईवीएफ तकनीक का इस्तेमाल करने का विचार बनाया.

डॉक्टरों का कहना है कि यह एक विश्व रिकॉर्ड हो सकता है. गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड के मुताबिक अब तक सबसे अधिक उम्र में मां बनने का रिकॉर्ड स्पेन की एक महिला के पास है, जिसने 66 साल की आयु में बच्चे को जन्म दिया था. महिला रोग विशेषज्ञ डॉ. सनक्कायल अरुणा ने बताया कि महिला और दोनों बच्चों स्वस्थ हैं.

अस्पताल के निदेशक डॉ. उमाशंकर ने बताया कि मंगयम्मा ने आईवीएफ तकनीक से मां बनने के लिए पिछले साल उनसे संपर्क किया था. इस साल जनवरी में उन्होंने गर्भधारण किया. आज उन्होंने जुड़वां बच्चियों को जन्म दिया है, दोनों स्वस्थ हैं. मंयगम्मा आईसीयू में है.


 



loading...