ताज़ा खबर

‘जिसने याकूब की फांसी का विरोध किया उसे कांग्रेस ने बनाया VP कैंडिडेट’ : शिवसेना

पीएम मोदी ने नमो ऐप पर किसानों को संबोधित किया, कहा- 2022 तक दोगुनी आय करना हमारी सरकार का लक्ष्य

भारत ने कहा- पाकिस्तान से बातचीत को लेकर तीसरे पक्ष का दखल मंजूर नहीं, चीनी राजदूत ने दिया था प्रस्ताव

जम्मू-कश्मीर: महबूबा मुफ्ती ने दिया इस्तीफा, राज्यपाल से मिले उमर अब्दुल्ला, कहा- न समर्थन लेंगे और न ही देंगे, जल्द चुनाव हों

सेना प्रमुख जनरल बिपिन रावत ने शहीद औरंगजेब के घर पहुंचकर परिवार से की मुलाकात

डिजिटल इंडिया प्रोग्राम में पीएम मोदी ने कहा- इससे बिचौलियों की भूमिका खत्म हो गई, सेवाएं घर तक पहुंची

जम्मू-कश्मीर: अगवा किये गये सेना के जवान औरंगजेब की आतंकियों ने की हत्या, शव मिला

2017-07-17_india54.jpg

BJP की सहयोगी दल शिवसेना ने गोपालकृष्ण गांधी को विपक्ष का उपराष्ट्रपति कैंडिडेट बनाए जाने पर सवाल उठाए हैं. शिवसेना स्पोक्सपर्सन संजय राउत ने अपोजिशन की बैठक में रविवार को दिए सोनिया गांधी के बयान पर कहा कि किसकी सोच ओछी है? गोपालकृष्ण गांधी ने 1993 मुंबई ब्लास्ट के दोषी याकूब मेमन की फांसी का विरोध किया था. उन्होंने याकूब को बचाने के लिए अपनी पूरी ताकत झोंक दी थी. ऐसे व्यक्ति को उपराष्ट्रपति का उम्मीदवार बनाना आपकी कौन-सी मानसिकता दिखाता है.

राउत ने आगे कहा कि हम विरोध नहीं करते, लेकिन जब देशहित और राष्ट्रीय सुरक्षा की बात आती है, तब करना पड़ता है. याकूब ने पाकिस्तान के साथ मिलकर आतंकी हमले को अंजाम दिया. गोपालकृष्ण ने उसी याकूब को बचाने के लिए चलाई गई मुहिम को लीड किया. फांसी की सजा रद्द कराने के लिए प्रेसिडेंट को खत लिखा.

इस पर कांग्रेस सांसद रेणुका चौधरी ने कहा है कि गोपालकृष्ण गांधी पर सवाल उठाने से पहले शिवसेना इस बात की जानकारी दे कि उन्होंने फांसी रोकने के लिए क्या किया था.

बता दें कि गोपालकृष्ण गांधी मंगलवार को नॉमिनेशन फाइल करेंगे. इस दौरान सोनिया और राहुल गांधी समेत विपक्ष के कई नेता उनके साथ मौजूद रहेंगे.



loading...