राजस्थान असेंबली में नेताओं-अफसरों को बचाने वाले ऑर्डिनेंस पर जमकर हंगामा

2017-10-23_rajasthan54.jpg

सोमवार को राजस्थान में विधानसभा सत्र विपक्ष के हंगामे से शुरू हुआ. कांग्रेस ने लोकसेवकों के खिलाफ केस दर्ज कराने से पहले सरकार से मंजूरी लेने संबंधी बिल में अमेंडमेंट (संधोशन) का मुद्दा उठाया. वहीं, विधानसभा अध्यक्ष कैलाश मेघवाल ने कार्यवाही में बाधा नहीं पहुंचाने को कहा.

उन्होंने विपक्षी सदस्यों से कहा कि वे सदन की कार्यवाही ठीक से चलने दें, लेकिन कांग्रेसी विधायक नहीं माने और नारेबाजी करने लगे. बता दें कि इस बिल के दायरे में अफसर ही नहीं, भ्रष्ट नेता भी आएंगे.

कानून विशेषज्ञ का कहना है कि इस बिल के कई प्रोविजंस असंवैधानिक हैं. वसुंधरा सरकार इस सत्र में CRPC में संशोधन विधेयक समेत 6 बिल पेश करना चाहती है. उधर, इस बिल के खिलाफ हाईकोर्ट में एक PIL दायर की गई है.

बता दें कि इस सत्र में जो विधेयक पेश होने हैं, उसमें लोकसेवकों के खिलाफ केस दर्ज कराने से पहले सरकार से मंजूरी लेने संबंधी बिल के अलावा गुर्जर आरक्षण और किसानों की कर्ज माफी का मामला भी सदन में गूंजेगा.



loading...