पुलवामा आतंकी हमले में शहीद हुए जवानों के परिजनों की लोगों ने दिल खोलकर की मदद, ‘भारत के वीर’ खाते में जमा हुए 80 करोड़

वाइस एडमिरल बिमल वर्मा की याचिका को रक्षा मंत्रालय ने किया खारिज, जानें क्या है मामला

कमल हासन ने ‘हिंदू’ शब्द को लेकर दिया विवादित बयान

सरकार के लिए विपक्ष की मोर्चेबंदी, राहुल गांधी से मिले नायडू, शाम को लखनऊ में अखिलेश-मायावती से करेंगे मुलाकात

लोकसभा चुनाव: PM मोदी और अमित शाह को मिली क्लीनचिट से नाराज चुनाव आयुक्त अशोक लवासा ने EC की मीटिंग से किया किनारा

PM मोदी की 5 साल में पहली प्रेस कॉन्फ्रेंस, कहा- फिर बनेगी पूर्ण बहुमत वाली NDA की सरकार

साध्‍वी प्रज्ञा के नाथूराम गोडसे वाले बयान पर पीएम मोदी ने कहा- दिल से कभी माफ नहीं कर पाऊंगा, अनिल सौमित्र को पार्टी से निलंबित किया

2019-03-06_PulwamaAttack.jpg

जम्मू-कश्मीर के पुलवामा आतंकवादी हमले में शहीद जवान और उसके बाद कि जवाबी करवाई पर भले ही कांग्रेस के नेता सवाल उठा रहे हो लेकिन आम देशवासियों के मन में इन शहीद जवानों के परिवार वालो की मदद के लिए जबरदस्त उत्साह देखा जा रहा है. अर्द्धसैनिक बलों के शहीद जवानों के परिवार वालों की मदद के लिए बने 'भारत के वीर' से जुड़े बैंक खातों में लोग करोड़ों रुपए की मदद कर रहे है. पिछले महीने 14 फरवरी को पुलवामा हमले के बाद अब तक आम देशवासियों ने शहीद जवानों के परिजनों के खातों में 80 करोड़ रुपये दान दिए है जबकि इससे पहले पिछले करीब 2 सालों में महज 20 करोड़ रुपये की मदद आम लोगों ने की थी.

'भारत के वीर' से जुड़े एक अधिकारी के मुताबिक,’आम देशवासी जिस तरह हमारे शहीद जवानों के परिवार की मदद कर रहे है वो क़ाबिले तारीफ है और ऐसे परिवार जिन्होंने अपनों को खोया है उनको ये लग रहा है कि वो अकेले नही है बल्कि पूरा देश उनके साथ है.'

अर्द्धसैनिक बल से जुड़े एक और अधिकारी के मुताबिक़ लोगों की मदद का सिलसिला लगातार जारी है और जब भी 'भारत के वीर' से जुड़े किसी भी शहीद परिवार के खाते में 15 लाख रुपये जमा होते ही अपने आप ऐसे जवानों से जुड़े खाते लिस्ट से हटा दिए जाते है जिससे उन जवानों के परिवार से जुड़े खातों में पैसे ट्रांसफर हो सके जिन्हें 15 लाख रुपये तक कि मदद नही मिली है.

हम आपको बता दे कि पुलवामा में सीआरपीएफ के काफिले पर हुए हमले में 40 जवान शहीद हो गए थे और इस आतंकी हमले से जहां लोंगो में पकिस्तान को लेकर बेहद गुस्सा है वहीं लोग हमारे जवानों के लिए हर संभव मदद करना चाहते है. आप लोगो के उत्साह का अंदाज़ा इसी बात से लगा सकते है कि CRPF के ट्विटर एकाउंट के फ़ॉलोअर्स की संख्या पुलवामा हमले से पहले जहां 2 लाख से ज्यादा थी वो पुलवामा हमले के बाद बढ़कर अब 4 लाख से ज्यादा हो गयी है.



loading...