हिमाचल प्रदेश में ट्रैकिंग करने आए IIT के 35 छात्र लापता, लाहौल स्पीति में भारी बर्फबारी

लोकसभा चुनाव 2019: राहुल गांधी का दावा, नोटबंदी के समय पीएम मोदी ने अपनी कैबिनेट को ताले में बंद कर दिया था

हिमाचल प्रदेश में भूकंप, मंडी, सुंदरनगर, नेरचौक तक महसूस किए गए झटके, रिक्टर स्केल पर 4.2 थी तीव्रता

हिमाचल प्रदेश: शिमला के पास मंडी में गहरी खाई में गिरी जीप, 5 की मौत, 5 लोग घायल

हिमाचल प्रदेश: कांगड़ा में राहुल गांधी ने कहा- हमारी सरकार आई और कोई कर्मी ड्यूटी के दौरान शहीद हुआ तो उसे शहीद का दर्जा मिलेगा

हिमाचल प्रदेश: हिमस्खलन में बर्फ की चपेट में आए जवानों का अभी तक कोई सुराग नहीं, सेना का तलाशी अभियान जारी

हिमाचल प्रदेश ने पेश किया बजट, आर्थिक रूप से कमजोर सामान्य वर्ग के लोगों को मिलेगा 10 फीसदी आरक्षण, जानिए- किसको क्या मिला

2018-09-25_Himachal.jpg

हिमालचल प्रदेश के लाहौल स्पीति में 45 लोगों के लापता होने की खबर हैं. इन लोगों में 35 छात्र हैं जो आईआईटी रुड़की के हैं. इन छात्रों में से एक की पहचान अंकित भाटी के तौर पर हुई है. अंकित के पिता राजीव भाटी ने बताया कि यह सभी कुल्लू स्थिति हमता ट्रैकिंग पास में ट्रैकिंग करने गए थे. राजीव ने समाचार एजेंसी एएनआई से बातचीत में कहा कि मेरा बेटा ग्रुप के साथ ट्रेकिंग से लौटकर मनाली आ रहे थे लेकिन अब उनसे संपर्क नहीं हो पा रहा है.

लाहौल स्पीति घूमने 8 लोग सुरक्षित हैं, जिनकी पहले लापता होने की सूचना थी. इसकी जानकारी एसडीएम कीलोंग अमर सिंह नेगी ने दी है. आपको बता दें कि मौसम विभाग ने अगले 24 घंटों तक राज्य में भारी बारिश की चेतावनी दी है. प्रशासन ने कलगरा जिले के सभी सरकारी और निजी शैक्षणिक संस्थान और आंगनवाड़ी केंद्र मंगलवार को बंद रखने के आदेश जारी किए हैं. इसके अलावा चंबा में हो रही लगातार बारिश के बाद चेमेरा बांध के गेट पानी छोड़ने के लिए खोले गए हैं.

उत्तर भारत में बारिश के कारण अभी तक कुल 40 लोगों की मौत हो गई है और 1600 लोग फंसे हुए हैं. आंकड़ों के मुताबिक हिमाचल प्रदेश में 8, हरियाणा में 7, पंजाब में 11, उत्तराखंड में 6 और जम्मू-कश्मीर में 8 मौतों की पुष्टि हो चुकी है. हिमाचल प्रदेश में करीब 1600 लोग अलग अलग जगहों पर फंसे हुए हैं.



loading...