विडियो: हॉस्टल में रहस्यमय हालात में मृत पाई गई 20 साल की इचिता, इन्साफ के लिए लोगों ने निकाला कैंडल मार्च

झारखंड: रांची में माओवादियों से मुठभेड़ में दो जवान शहीद, CM बोले- अंतिम साँसे ले रहे नक्सलवाद को उखाड़ फेकेंगे

झारखंड कांग्रेस को बड़ा झटका, पूर्व अध्यक्ष अजय कुमार आम आदमी पार्टी में हुए शामिल

झारखंड के रांची में बोले पीएम मोदी, देश को लूटने वालों को सही जगह पहुंचाने का काम चल रहा है

बीजेपी ने कई राज्यों के लिए नियुक्त किए चुनाव प्रभारी, जानें किसे कहां मिली जिम्मेदारी

झारखंड के जमशेदपुर दिल झकझोर देने वाली घटना, दुष्कर्म के बाद 3 साल की मासूम का सिर काटा

RJD प्रमुख लालू प्रसाद यादव को चारा घोटाले में झारखंड हाई कोर्ट से मिली जमानत, लेकिन जेल से नहीं निकल पाएंगे

2017-03-06_rachisuicide.jpg

रांची के Fighter Girls हॉस्टल में 20 साल की इचिता सिंह ने आत्महत्या करली. इचिता रांची के Goal Institute से मेडिकल एंट्रेंस की तैयारी कर रही थी. लेकिन ऐसा क्या हुआ जो गुरुवार (2 march) की रात उसने इतना बड़ा कदम उठा लिया. बल्कि घटना से तीन दिन पहले वो अपने घर से होकर आई थी. 

सुसाइड की खबर मिलते ही घरवालों ने पुलिस में हत्या का मामला दर्ज कराया क्यूंकि इचिता के पिता का मानना था कि उनकी बेटी सुसाइड नहीं कर सकती. पुलिस इस मामले की जांच प्रेम-प्रसंग के लिहाज से भी कर रही है.

इचिता के रूममेट्स का कहना है कि उसका किसी मनीष अग्रवाल नाम के लड़के के साथ लव अफेयर चल रहा था. हो न हो इसके पीछे उसका ही हाथ हो. इचिता का पोस्ट मार्टम करने वाले डॉक्टर ने बताया कि जब शुक्रवार को उसे यहाँ लाया गया तब वो मर चुकी थी.

जैसे-जैसे पुलिस की इन्वेस्टीगेशन आगे बढ़ रही है नए-नए राज और पेंच इस मामले में खुलते जा रहे हैं. बहरहाल पुलिस अपना काम कर रही है लेकिन इचिता को इन्साफ दिलाने के लिए उसके परिवार और दोस्तों ने रांची विश्वविद्यालय से एल्बर्ट एक्का चौक तक कैंडल मार्च निकाला.   
 



loading...