ताज़ा खबर

यूपी में आंधी-बारिश का कहर, अलग-अलग घटनाओं में 17 लोगों की मौत

यूपी में बिगड़ी कानून-व्यवस्था को लेकर अखिलेश यादव ने राज्यपाल राम नाईक से की मुलाकात, बीजेपी सरकार पर बोला हमला

लोकसभा चुनाव में हार पर कांग्रेस का मंथन, ज्योतिरादित्य सिंधिया की मीटिंग में शामिल नहीं हुए ये कांग्रेसी नेता

उत्तर प्रदेश के मेरठ में कीटनाशक फैक्टी में लगी भीषण आग, मौके पर दमकल की 9 गाड़ियां मौजूद

आतंकी हमले को लेकर हाई अलर्ट पर राम नगरी अयोध्या, सुरक्षा के कड़े इंतजाम

अनंतनाग आतंकी हमले में शहीद हुए यूपी के दो लाल, CM योगी ने परिजनों को 25 लाख रुपए और नौकरी देने का किया वादा

अतीक अहमद पर कसा CBI का शिकंजा, रियल एस्टेट डीलर अपहरण मामले में दर्ज हुआ केस

2019-06-13_UP.jpg

पिछले कई दिनों से भीषण गर्मी के बाद बुधवार को आंधी और बारिश ने यूपी के कई जिलों में कहर बरपाया. अलग-अलग घटनाओं में 17 की मौत हो गई. बस्ती मंडल के सिद्धार्थनगर में चार, देवरिया व अवध में तीन-तीन, बलिया में दो, आजमगढ़, कुशीनगर, महाराजगंज, लखीमपुर और पीलीभीत में एक-एक और लोगों की मौत हो गई. आंधी की वजह से कहीं पेड़ गिर गए तो कहीं टीन शेड उड़ गए. कई जगह बिजली के खंभे गिर पड़े, जिसकी वजह से बिजली आपूर्ति बाधित हो गई.

सिद्धार्थनगर में आंधी की वजह से टिन शेड गिरने से मेडिकल कॉलेज में निर्माण कार्य में लगे बिहार के कटिहार के मजदूर रहीम (30) की मौत हो गई, जबकि शमीम और खुशबुल घायल हो गए. शोहरतगढ़ जिले के चोहट्टा गांव निवासी बृजभान यादव (30) खेत की ओर गए थे. तभी आंधी और बारिश आ गई. वापस लौटते समय बिजली गिरने से वह बुरी तरह झुलस गए और थोड़ी ही देर में उनकी मौत हो गई.

ढेबरुआ गांव निवाली विशाल (22) दवा लेकर साइकिल से घर लौट रहे थे. एनएच 730 पर ढेबरुआ चौराहे के बाद उनके ऊपर पेड़ गिर पड़ा, जिससे उनकी मौके पर ही मौत हो गई. हादसे में विशाल के साथ गया आठ वर्षीय गोलू घायल हो गया. उसे अस्पताल में भर्ती कराया गया है. 

इसके अलावा डुमरियागंज के त्रिलोकपुर थाना क्षेत्र के पेड़रा गांव निवासी बुधना (65) पत्नी साधू की जान भी आंधी की वजह से चली गई. वह धान के बेहन को छुट्टा पशुओं से बचाने के लिए बाग में बैठी थीं, तभी आंधी आई और उनके ऊपर पेड़ गिर पड़ा.

देवरिया के भलुअनी कस्बे में सोलर प्लेट और बिजली का खंभा गिरने से चाय विक्रेता हरिलाल मद्धेशिया के पुत्र शुभम (22) की मौत हो गई. गौरीबाजार के पथरहट गांव की हरिजन बस्ती निवासी इसरावती (55) की बारिश के दौरान बिजली गिरने से मौत हो गई. वह कस्बे में आम खरीदने गई थीं. गौरीबाजार थाना क्षेत्र के अमारी गांव में पक्की दीवार ढहने से मलबे में दबकर रामनयन प्रजापति के नौ वर्षीय बेटे की मौत हो गई.

कुशीनगर में पडरौना कोतवाली क्षेत्र के बलुचहां गांव निवासी जितेंद्र यादव का 13 वर्षीय पुत्र विवेक बिजली गिरने से वह गंभीर रूप से झुलस गया. घरवाले उसे दुदही सीएचसी ले गए, जहां डॉक्टर ने उसे मृत घोषित कर दिया. महराजगंज के मिठौरा कोतवाली क्षेत्र के रामपुरमीर गांव निवासी झिनकू (55) नेपाल में अपने रिश्तेदार के घर गए थे. बुधवार को वापसी में झुलनीपुर गांव के पास बिजली गिरने से वह बुरी तरह झुलस गए. बाद में अस्पताल में उनकी मौत हो गई.

लखीमपुर के मैलानी क्षेत्र में आंधी से गिरे पेड़ की चपेट में आकर एक व्यक्ति की मौत हो गई, जबकि मुड़िया हेमसिंह में बिजली गिरने से दंपती समेत तीन लोग झुलस गए. पीलीभीत शहर में पुष्प कॉलेज के पास आंधी में जामुन का पेड़ गिरने से एक बैलगाड़ी चालक की मौत हो गई. स्टेशन रोड पर रोड किनारे बाइक लेकर खड़े युवकों पर होर्डिंग गिर गया जिससे वे घायल हो गए. अवध क्षेत्र में बुधवार को आई आंधी-पानी में तीन लोगों की मौत हो गई जबकि टूटे बिजली तारों की चपेट में आकर दो बच्चे झुलस गए. दोनों को अस्पताल में भर्ती कराया गया है.



loading...