ताज़ा खबर

मुंबई: कमला मिल कंपाउंड में भीषण आग, 14 लोगों की मौत

भीमा कोरेगांव हिंसा मामले में सुप्रीमकोर्ट ने 19 सितंबर तक बढ़ाई आरोपी कार्यकर्ताओं की नजरबंदी

मुंबई कांग्रेस में गुटबाजी शुरू, संजय निरुपम को अध्यक्ष पद से हटाने के लिए मल्लिकार्जुन खड़गे से मिले कई नेता

भीमा कोरेगांव हिंसा मामले में सुप्रीमकोर्ट ने 17 सितंबर तक बढ़ाई आरोपी कार्यकर्ताओं की नजरबंदी

एचडीएफसी बैंक के वाइस प्रेजिडेंट की हत्या की गुत्थी सुलझी, खूनी के पास बाइक की EMI देने के लिए नहीं थे पैसे, कर दी हत्या

एचडीएफसी बैंक के वाइस प्रेसिडेंट सिद्धार्थ संघवी का शव बरामद, पुलिस ने आरोपी को पकड़ा

पेरेंट्स जिसे 4 साल तक बेटी समझते रहे वह निकला बेटा, पूरी बात सुनकर चौक जायेंगे आप

2017-12-29_kamala-mills-mumbai-fire.jpg

मुंबई में कमला मिल्स कंपाउंड में भीषण आग लग जाने की वजह से 14 लोगों की मौत हो गई है, जबकि 12 से ज्यादा घायल हो गए हैं। कमला मिल्स मुंबई के लोअर परेल इलाके में स्थित है जहां मीडिया इंडस्ट्री के कई बड़े चैनल्स के ऑफिस मौजूद हैं। प्रधानमंत्री मोदी और राष्ट्रपति ने हादसे पर दुख जताते हुए घायलों के जल्द ठीक होने की उम्मीद जताई है।

चश्मदीदों ने बताया कि इस हादसे में जिंदगियों का खाक होने की बड़ी वजह वहां मची भगदड़ थी। इस हादसे में मरने वाले 14 लोगों में से 11 महिलाएं हैं। आग लगने की वजह अब तक साफ नहीं हो पाई है। जिस बिल्डिंग में आग लगी वो कमला मिल्स कम्पाउंड में है। ये आग गुरुवार रात 12 बजे के बाद लगी। बीएमसी का डिजास्टर मैनेजमेंट स्टाफ मौके पर पहुंचा और लोगों को वहां से निकालने की कोशिश की।

 बताया जा रहा है कि खुशबू नाम की एक लड़की की बर्थडे पार्टी के दौरान अचानक पब में आग लग गई, जिससे ये हादसा हुआ। महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने हादसे को लेकर ट्विटर पर दुख जताया है। साथ ही उन्होंने जांच के आदेश भी दे दिए हैं।cएक सच सामने आया है कि कमला मिल्स कंपाउंड में अवैध निर्माण की शिकायत बॉम्बे नगर निगम को पहले ही की थी, लेकिन बीएमसी ने इनकार करते हुए मामले को दबा दिया था।

ऑनलाइन मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक कमला मिल्स कंपाउंड के मालिक पर एफआईआर दर्ज कर ली गई है और पुलिस ये जानने में जुट गई है कि आग लगने की असली वजह क्या थी? बताया जा रहा है कि कंपाउंड में स्थित पब में आग लगी और उसके बाद वो फैलती गई।

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने भी ट्वीट करके कहा, "मुंबई की बिल्डिंग में आग लगने की घटना से दुख हुआ। हादसे में मारे गए लोगों के साथ मेरी संवेदनाएं हैं। जो जख्मी हुए हैं, उनके जल्दी ठीक होने की कामना करता हूं। फायर ब्रिगेड और रेस्क्यू ऑपरेशन में लगे लोगों की तारीफ की जानी चाहिए।''

मोदी ने ट्वीट करके कहा, "हादसे में मारे गए लोगों के परिवारों के साथ मेरी संवेदनाएं हैं। घायलों के जल्दी ठीक होने की कामना करता हूं।"

इस हादसे में 11 महिला और तीन पुरुष की मौत हुई है.
परमिला (महिला)
तेजल गांधी (महिला, 36)
खुशबू बंसल (महिला)
विश्‍वा ललानी (पुरुष, 23)
पारुल लकड़वाला (महिला, 49)
धारिया ललवानी (पुरुष, 26) 
किंजल शाह (महिला, 21)
कविता धरानी (महिला, 36)
शेफाली (महिला)
यशा ठक्‍कर (महिला,22)
सरबजीत परेला (पुरुष)
प्राची खत्री (महिला, 30)
मनीषा शाह (महिला, 47)
प्रीति राजगिरा (महिला, 61)

,


loading...