ताज़ा खबर

काबुल : फिदायीनों के हमले में मारे गए 14 लोग, 17 हुए घायल; उलेमाओं ने हमलो को बताया था इस्लाम के खिलाफ

2018-06-04_clericsmeetingafdhanistan.jpg

सोमवार को अफगानिस्तान की राजधानी में फिदायीनों ने आत्मघाती हमला किया. जिसमें 17 लोग घायल हुए जबकि 14 लोगों की मौत हो गई. मरने वालों में 7 उलेमा और 4 सुरक्षाकर्मी शामिल थे. वहीँ तीन की पहचान नहीं हो सकी. बताया जा रहा है इस हमले की वजह उलेमाओं का फिदायीनों के खिलाफ फतवा जारी करना था. बताया जा रहा है कि आतंकी इस बात से नाराज़ थे. 

काबुल के लोया जिरगा में शांति सभा के लिए टेंट लगाए गए थे. इसके लिए लगभग 3000 उलेमा जुटे थे. हमला टेंट के बाहर किया गया. शक था कि इस हमले के पीछे तालिबान का हाथ हो सकता है, पर उसने इससे इनकार कर दिया है. फ़िलहाल किसी अन्य आतंकी संगठन ने अभी इसकी जिम्मेदारी नहीं ली है.

अफगानिस्तान में बीते कुछ दिनों में आतंकी हमले बढ़े हैं. 6 मई को एक मस्जिद में बने वोटर रजिस्ट्रेशन सेंटर पर हमला हुआ था. इसमें 15 लोगों की मौत हुई थी.  अप्रैल में भी वोटर रजिस्ट्रेशन सेंटर को निशाना बनाकर फिदायीन हमला किया गया था. इसमें 48 लोग मारे गए थे, 112 जख्मी हुए थे.

आपको बता दें ये कोई पहला हमला नहीं था. इससे पहले भी 9 मई को काबुल के पुलिस स्टेशनों पर कुछ बंदूकधारियों और आत्मघातियों ने हमले किए थे. इसमें 5 लोगों की मौत हुई थी. 20 से अधिक घायल हुए थे. हक्कानी नेटवर्क और लश्कर-ए-तैयबा ने इन हमलों को अंजाम दिया था.



loading...