ताज़ा खबर

यूपी: आंधी-तूफान से 10 लोगों की मौत, 28 घायल, दिल्ली-एनसीआर में जहरीली हवा से बुरा हाल

विवेक तिवारी हत्याकांड: योगी सरकार ने कल्पना तिवारी को लखनऊ नगर निगम का OSD बनाया

उत्तर प्रदेश के रायबरेली में बड़ा रेल हादसा, पटरी से उतरी न्यू फरक्का एक्सप्रेस, 7 की मौत, यह हैं एमरजेंसी नंबर

गुजरात पलायन पर मायावती ने कहा- जिन लोगों ने मोदी जी को पीएम बनाया उन्ही पर निशाना

यूपी: ब्लैक डे मनाने के बाद अब पोस्ट में लिखा, न करेंगे ट्रैफिक कंट्रोल, क्राइम होने नहीं करेंगे कार्यवाही

नशाबंदी होने के बावजूद भी तीर्थनगरी वृंदावन में बार बालाओं के साथ छलके जाम, 36 गिरफ्तार

विवेक तिवारी के हत्यारों के सर्मथन में आज काला दिवस मनाएंगे यूपी के वर्दीवाले, एक सिपाही सस्पेंड

2018-06-14_uttarpradesh.jpg

उत्तर प्रदेश में एक बार फिर से आंधी-तूफान का कहर देखने को मिला है. बुधवार को उत्तर प्रदेश के विभिन्न जिलों में आए भीषण आंधी-तूफान से 10 लोगों की मौत हो गई और 28 घायल हो गये. आंधी-तूफान से मरने वालों में गोंडा के 3 हैं, 1 फैजाबाद और 6 सीतापुर के हैं. बता दें कि दिल्ली एनसीआर में बुधवार को मौसम का मिजाज बदला नजर आया. दिल्ली और राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र में बुधवार को धूल का गुबार छाया रहा. केन्द्रीय पर्यावरण मंत्रालय ने अनुमान व्यक्त किया कि अगले तीन दिन तक यह धुंध छाई रह सकती है.

इससे पहले भी यूपी में पिछले दिनों आए आंधी तूफान में 26 लोगों की मौत हो गई थी जिनमें जौनपुर और सुल्तानपुर में 5-5, चन्दौली और बहराइच में 3-3, मिर्जापुर, सीतापुर, अमेठी और प्रतापगढ़ में 1-1, उन्नाव में 4 और रायबरेली में 2 लोगों की मौत हुई थी. मौसम विभाग ने पहले ही आंधी-तूफान चलने का अनुमान जताया था, मौसम विभाग ने मंगलवार को ही घोषणा की थी कि आने वाले दिनों में यूपी और दिल्ली में तेज धूल भरी आंधी-तूफान चल सकता है.

मौसम विभाग के अनुसार दिल्ली के ऊपर छाई धूल भरी धुंध के लिए राजस्थान में आई धूल भरी आंधी मुख्य वजह है. मौसम विभाग की ओर से जारी आधिकारिक बयान में अगले 3 दिनों तक दिल्ली में यह स्थिति बरकरार रहने की आशंका व्यक्त की गई है. ऐसे में लोगों को जल्दी राहत मिलने की संभावना नहीं है.



loading...